Labels

Followers

Sunday 25 March 2012

एन0एच0 पे भगवान

दिन जुमा हो या मंगल का
रस्‍ता रोके खुदा का बीच सड़क पर
सन्2013 की राजधानी
हो रहा नमाज मंगलगान
बना रहे घूसखोर
दान-दक्षिणा ले रहे भगवान
मस्‍त भी व्‍यस्‍त भी
खुदा हो रहा आग
हो रहा पानी-पानी

2 रस्‍ता जाम कर हो रहा ईबादत
ओ भैये ,गुरू ,दादा ,अन्‍ना
कौन सा मौलिक अधिकार है तेरा
पढ़ाई-लिखाई ,अस्‍पताल दुकान
क्‍या खुदा के कहने से करता हलकान
भगवान केा उंचा सुनने की बीमारी नहीं है प्‍यारे
तो मैं कबीर का प्रवचन बंद करू न !
ठीक है तो आ रहा थानेदार गंडा सिंह
उसे ही पकड़ाता हूं पांच सौ का नोट
मारेगा डंडा घूमा घूमा के आगे-पीछे
तब बताना उसको मानवाधिकार का सेक्‍शन नं0 फलां

No comments:

Post a Comment